Join Telegram Channel

Join WhatsApp Channel

PM Sukanya Samriddhi Yojana 2023 | सुकन्या समृद्धि योजना हिंदी में | लाभ और हानियां, एसएसवाई योजना कैलकुलेटर

Join Telegram Channel

Join WhatsApp Channel

PM Sukanya Samriddhi Yojana 2023 | सुकन्या समृद्धि योजना हिंदी में | लाभ और हानियां, एसएसवाई योजना कैलकुलेटर:-

बेटियों की स्थिति को बेहतर बनाने के उद्देश्य से केंद्र सरकार ने कई तरह की बचत योजनाएं शुरू की हैं, जिनसे बेटियां लाभान्वित हो सकती हैं। इस तरह की एक बचत योजना के माध्यम से माता-पिता को उनकी बेटियों के भविष्य के लिए बचत करने की सुविधा प्रदान की जाती है। केंद्र सरकार द्वारा पीएम सुकन्या समृद्धि योजना की शुरुआत की गई है।

इस योजना के अंतर्गत, बेटी के माता-पिता एक खाता खोल सकते हैं, जिसे वह बचत के लिए उपयोग कर सकते हैं। यह खाता बेटी की उम्र 10 वर्ष या उससे कम होने पर बैंक या ऑफिस में खोला जा सकता है। इस तरीके से बेटी की ऊच्च शिक्षा और पढ़ाई के लिए बचत की जा सकती है।

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाता खोलने पर बालिका को सरकार द्वारा 7.6% ब्याज प्रदान किया जाएगा। यह ब्याज बालिका को 21 वर्ष की आयु के बाद मिलेगा।

सुकन्या समृद्धि योजना 

सुकन्या समृद्धि योजना 2023 के लिए आवेदन करने के लिए निम्नलिखित चरणों का पालन करें:

PM sukanya samriddhi yojana apply 1024x683 1

  1. सुकन्या समृद्धि योजना के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं। यह वेबसाइट gjust.ac.in पर उपलब्ध है।
  2. मुख्य पृष्ठ पर “भर्ती” या “करियर” सेक्शन में जाएं।
  3. सुचना पत्र या विज्ञापन ढूंढें जिसमें सुकन्या समृद्धि योजना 2023 के बारे में जानकारी दी गई हो। आवश्यकता में पढ़ें ताकि पात्रता मानदंड, रिक्त पदों का विवरण और अन्य महत्वपूर्ण जानकारी को समझ सकें।
  4. दिए गए पदों के लिए आवेदन करने के लिए आवेदन पत्र को संबंधित पते पर भेजकर ऑफलाइन आवेदन करें।
  5. आवेदन पत्र को समय पर भरें और संबंधित दस्तावेजों के साथ सम्पूर्ण जानकारी प्रदान करें। इन दस्तावेजों में शिक्षा संबंधित प्रमाणपत्र, पहचान प्रमाण पत्र, अनुभव प्रमाण पत्र (यदि लागू हो), जाति प्रमाण पत्र (यदि लागू हो), आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से सुकन्या समृद्धि योजना 2023 से जुड़ी संपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराएंगे। इसलिए आपको यह आर्टिकल विस्तार पूर्वक अंत तक पढ़ना होगा।

सुकन्या समृद्धि योजना 2023

सुकन्या समृद्धि योजना: बेटियों के भविष्य को सुरक्षित बनाने की योजना

सुकन्या समृद्धि योजना केंद्र सरकार द्वारा 2015 में शुरू की गई एक योजना है, जिसे “बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओ” अभियान का हिस्सा के रूप में शुरू किया गया है। इस योजना के माध्यम से सरकार माता-पिता को बेटियों के भविष्य को उज्जवल बनाने के लिए बचत करने की सुविधा प्रदान करती है।

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत, माता-पिता 10 साल या उससे कम आय की बालिका के लिए एक खाता खोल सकते हैं। खाता खोलने के लिए न्यूनतम राशि 250 रुपये है और अधिकतम राशि 1.5 लाख रुपये तय की गई है। पैसे जमा करने के लिए आवेदक अपनी सुविधानुसार बेटी के खाते में पैसे जमा कर सकते हैं। इसमें खाता खोलने की तिथि से 14 साल तक नियमित रूप से पैसे जमा करने की आवश्यकता होती है।

इसके बाद, जब बालिका 21 वर्ष की होती है, वह खाते से पूरी राशि निकाल सकती है।

योजना का नाम प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना
शुरू की गई केंद्र सरकार द्वारा
आरम्भ तिथि 22 जनवरी, 2015
वर्ष 2023
आवेदन प्रक्रिया ऑफलाइन प्रक्रिया
लाभार्थी देश की बालिका
उद्देश्य बेटियों के भविष्य को सुरक्षित करने
हेतु बचत की सुविधा प्रदान करना
योजना का प्रकार केंद्र सरकारी योजना
ऑफिसियल वेबसाइट nsiindia.gov.in

प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना के लाभ एवं विशेषताएं

पीएम सुकन्या समृद्धि योजना के माध्यम से नागरिक अपनी बेटी के भविष्य के लिए धनराशि जमा कर सकते हैं। यहां कुछ महत्वपूर्ण लाभ के बारे में जानकारी है:

  1. योजना के तहत, 10 साल या उससे कम आयु की बेटी के नाम पर एक खाता खोला जा सकता है, और आवेदक अपनी सुविधा के अनुसार न्यूनतम 250 रुपये या अधिकतम 1,50,000 रुपये की राशि जमा कर सकते हैं।
  2. योजना के लाभ को प्राप्त करने के लिए आवेदन बैंक या पोस्ट ऑफिस में बेटी का खाता खोलकर किया जा सकता है।
  3. योजना के तहत, सरकार द्वारा 7.6% का ब्याज प्रदान किया जाएगा।
  4. आवेदक बालिका के खाते की मैच्योरिटी (पूर्णता) 21 साल की आयु तक हो जाएगी।
  5. योजना के तहत, आवेदक बालिका चाहे अपनी उच्च शिक्षा या जरूरत के लिए 18 वर्ष की होने पर भी पैसों की निकासी कर सकती है, लेकिन इस समय वह केवल 50% राशि ही निकाल सकेगी।

सुकन्या समृद्धि योजना में निवेश के लाभ

सुकन्या समृद्धि योजना अन्य सरकार समर्थित बचत योजनाओं की तुलना में एक बेहतर विकल्प है। इस योजना में ब्याज दर में वृद्धि होती है, जो बहुत सुविधाजनक है। यहां इस योजना के तहत 2023-24 वित्तीय वर्ष के पहले तिमाही में 7.6% ब्याज की दर से लाभ मिलेगा।

टैक्स छूट भी एक बड़ा लाभ है, क्योंकि सुकन्या समृद्धि योजना में निवेश करने पर इनकम टैक्स के सेक्शन 80C के तहत टैक्स छूट का लाभ मिलता है। इसका मतलब है कि आप वार्षिक 1.5 लाख रुपये के निवेश पर टैक्स छूट का फायदा उठा सकते हैं।

सुकन्या समृद्धि योजना में निवेशक 1 वर्ष में न्यूनतम 250 रुपये जमा कर सकता है, जिससे यह योजना आपकी सुविधा के अनुसार आपको निवेश करने की अनुमति देती है। आप इस योजना में अपनी आर्थिक स्थिति के अनुसार निवेश कर सकते हैं, जो आपकी सहूलियत को पूर्ण करता है।

सुकन्या समृद्धि योजना एक लंबी अवधि की निवेश योजना है, जिससे लाभार्थी को वार्षिक कंपाउंडिंग का लाभ मिलता है। इस योजना के अंतर्गत निवेश करने पर आपको एक लंबी अवधि में भी शानदार रिटर्न का लाभ मिलेगा।

सुकन्या समृद्धि अकाउंट को संचालित करने वाले माता-पिता या अभिभावक इसे आसानी से देश के एक हिस्से से दूसरे हिस्से में स्वतंत्र रूप से ट्रांसफर करवा सकते हैं। यह ट्रांसफर प्रक्रिया आपको सुविधा प्रदान करती है और आपको अपने निवेश को आपकी आवश्यकताओं और स्थिति के अनुसार परिवर्तित करने की स्वतंत्रता देती है।

सुकन्या समृद्धि योजना सरकार द्वारा संचालित होने के कारण इस योजना के अंतर्गत गारंटी रिटर्न का लाभ प्रदान किया जाता है। यह मतलब है कि आपको निवेश करते समय न्यूनतम गारंटीत मान्यता होती है और सरकार आपके निवेश पर आपको निश्चित रिटर्न देती है।

प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना 2023 में  पैसा कैसे जमा करें?

सुकन्या समृद्धि योजना में आप 15 वर्षों के लिए पैसा निवेश कर सकते हैं। आप इस योजना के अंतर्गत अपने खाते में नगद राशि, चेक, ड्राफ्ट या अन्य साधनों के माध्यम से पैसा जमा कर सकते हैं, जो बैंक आसानी से स्वीकार करता है। इसके लिए आपको पैसा जमा करने वाले और खाता धारक के नाम का उल्लेख करना आवश्यक होता है। आप इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसफर के माध्यम से भी सुकन्या समृद्धि खाते में पैसा जमा कर सकते हैं, लेकिन इसके लिए पोस्ट ऑफिस या बैंक में कोर बैंकिंग सिस्टम होना चाहिए। पैसे ड्राफ्ट या चेक के माध्यम से जब जमा होते हैं, तब उन पर ब्याज दिया जाता है, वहीं ई-ट्रांसफर से जमा हुए पैसों का ब्याज जमा करने के दिन से ही शुरू होता है।

SSY

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत खाता कहां खुलवाए?

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत आप मुख्यतः पोस्ट ऑफिस और सरकारी बैंकों में खाता खोल सकते हैं। इसके अलावा, निम्नलिखित महत्वपूर्ण बैंकों में भी आप सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाता खोल सकते हैं:

  1. स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank of India)
  2. पंजाब नेशनल बैंक (Punjab National Bank)
  3. बैंक ऑफ बड़ौदा (Bank of Baroda)
  4. बैंक ऑफ इंडिया (Bank of India)
  5. केनरा बैंक (Canara Bank)
  6. आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank)
  7. हैदराबाद बैंक (Hyderabad Bank)
  8. यूको बैंक (Uco Bank)
  9. कोर्पोरेशन बैंक (Corporation Bank)
  10. इंडसिंद बैंक (IndusInd Bank)

यह केवल कुछ उदाहरण हैं और आप अपनी पसंदीदा बैंक में जांच करके सुकन्या समृद्धि योजना के लिए खाता खोल सकते हैं।

Sukanya Samriddhi Yojana के लिए पात्रता

सुकन्या समृद्धि योजना के लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक को भारतीय नागरिक होना चाहिए। सुकन्या समृद्धि योजना खाता केवल बालिका के नाम पर माता-पिता या कानूनी अभिभावकों द्वारा खोला जा सकता है। खाता खोलने के समय बालिका की आयु 10 वर्ष से कम होनी चाहिए। एक बालिका के लिए एक से अधिक खाता नहीं खोले जा सकते हैं। एक परिवार के नाम सिर्फ़ दो बेटियों के नाम पर ही खाता खोला जा सकता है। इस योजना के अंतर्गत गोद ली गई बेटी के नाम पर भी सुकन्या समृद्धि खाता खोला जा सकता है।

सुकन्या समृद्धि योजना के लिए आवश्यक

दस्तावेज

  • माता-पिता का आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • पहचान पत्र
  • बेटी का आधार कार्ड
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना 

के लिए खाता कैसे खुलवाएं?

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत खाता खोलने के लिए आपको अपने नजदीकी पोस्ट ऑफिस या बैंक की शाखा में जाना होगा। वहां जाकर आपको सुकन्या समृद्धि योजना के तहत आवेदन करने हेतु फॉर्म प्राप्त करना होगा। आवेदन फॉर्म प्राप्त करने के बाद आपको पूछी गई सभी आवश्यक जानकारी को ध्यानपूर्वक भरना होगा।

सभी जानकारी भरने के बाद आपको फॉर्म में मांगे गए आवश्यक दस्तावेजों को संलग्न करना होगा। अब आपको यह आवेदन फॉर्म पोस्ट ऑफिस में जमा करना होगा। इसके साथ ही, खाता खोलने के लिए आपको प्रीमियम राशि के रूप में 250 रुपये जमा करनी होगी। इसके बाद, आपके द्वारा जमा किए गए आवेदन को कर्मचारियों द्वारा संस्थापित किया जाएगा और आपको इसे अपने पास सुरक्षित रखना होगा। इस प्रकार, आप आसानी से सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाता खोल सकते हैं।

SSY योजना के अंतर्गत नए बदलाव

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत, आवेदक को खाते में नियमित रूप से एक साल में कम से कम 250 रुपये जमा करना अनिवार्य होगा। इसके विरुद्ध, यदि लाभार्थी इस राशि को जमा नहीं करता है, तो उनका खाता डिफ़ॉल्ट माना जाएगा। नए नियमों के अनुसार, यदि सुकन्या समृद्धि योजना खाता दोबारा सक्रिय नहीं किया जाता है, तो आपको 2019 के नए नियमों के अनुसार निर्धारित 7.6% ब्याज दर प्राप्त होगी जब तक लड़की व्यवस्थित नहीं हो जाती है।

सुकन्या समृद्धि योजना में, एक परिवार की केवल एक बेटी के नाम से ही खाता खोला जा सकता है, लेकिन अगर दूसरी संतान जुड़वा बेटियां होती हैं, तो दोनों के नाम पर खाता खोला जा सकता है।

योजना के तहत, लाभार्थी बालिका के खाते को दो स्थितियों में बंद किया जाता है: पहला, जब बेटी की मृत्यु होती है, और दूसरा, जब बेटी का निवास स्थान परिवर्तित होता है।

प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना भारतीय डाक द्वारा संचालित योजनाएं

★★ You Can Also Check ★★

GOVERNMENT JOBS

CENTER GOBVT JOBS

STATE GOVT JOBS

DEFFENCE JOBS

BANK JOBS

RAILWAYS JOBS

 

भारतीय डाक विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं के बारे में जानकारी निम्नानुसार है:

  1. सुकन्या समृद्धि योजना: इस योजना के तहत आप अपनी बेटी के लिए एक खाता खोल सकते हैं और नियमित रूप से जमा करवाए गए राशि पर 7.6% ब्याज प्राप्त कर सकते हैं। यह योजना बेटी की शिक्षा और विवाह की आर्थिक सहायता के लिए बनाई गई है।
  2. पोस्टल सेविंग्स बैंक खाता: यह योजना सामान्य नागरिकों के लिए होती है और विभिन्न बचत खाता विकल्प प्रदान करती है। आपको जमा की गई राशि पर 7.6% ब्याज प्राप्त होता है।
  3. रिक्शा चालक संघ योजना: इस योजना के तहत रिक्शा चालकों को विभिन्न बचत खाता विकल्प उपलब्ध कराए जाते हैं जिन पर 7.6% ब्याज दिया जाता है। यह योजना रिक्शा चालकों को आर्थिक सहायता प्रदान करने का उद्देश्य रखती है।

खाता न्यूनतम राशि
सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) 250 रूपये
डाक घर बचत खाता 500 रूपये
पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) 500 रूपये
सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम 1000 रूपये
राष्ट्रीय बचत पत्र 1000 रूपये
राष्ट्रीय बचत समय जमा खाता 1000 रूपये
किसान विकास पत्र (KVP) 1000 रूपये
डाक घर मंथली इनकम स्कीम 1000 रूपये
राष्ट्रीय बचत आवर्ती जमा खाता 1000 रूपये

योजना के अंतर्गत आने वाले अधिकृत बैंकों की सूची

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया बैंक ऑफ महाराष्ट्र स्टेट बैंक ऑफ मैसूर अलाहाबाद
एक्सिस बैंक यूनियन बैंक ऑफ इंडिया पंजाब नेशनल बैंक IDBI बैंक
स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया आंध्रबैंक बैंक ऑफ बरोदा
ICICI बैंक ओरिएण्टल बैंक ऑफ कॉमर्स इंडियन ओवरसीज बैंक बैंक ऑफ इण्डिया
कॉरपोरेशन बैंक यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया पंजाब और सिंध बैंक सिंडिकेट बैंक
विजया बैंक यूको बैंक स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर और जयपुर
कैनरा बैंक स्टेट बैंक ऑफ पटियाला देना बैंक इंडियन बैंक

Sukanya Samriddhi Yojana खाता कैलकुलेशन

Annotation 2023 06 04 114506

एसएसवाई के तहत आवेदक को 21 वर्ष की योजना के कार्यकाल के पूरा होने पर प्राप्त होने वाली राशि की एक सूची निम्नानुसार है:

राशि (सालाना) (रूपये में) राशि (14 वर्ष) (रूपये में) राशि (21 वर्ष) (रूपये में)
1000 14000 46,821
2000 28000 93,643
5000 70000 2,34,107
10000 140000 4,68,215
20000 280000 9,36,429
50000 700000 23,41,073
100000 1400000 46,82,146
125000 1750000 58,52,683
150000 2100000 70,23,219

1000 रूपये योगदान के साथ गणना (वार्षिक)

  • फिक्स्ड इंटरेस्ट – 8.4%
  • अवधि – 14 वर्ष
  • भुगतान वार्षिक रूप से
साल ओपनिंग बैलेंस (रूपये में) जमा राशि (रूपये में) ब्याज (रूपये में) क्लोजिंग बैलेंस (रूपये में)
1 0 1000 84 1084
2 1084 1000 175 2259
3 2259 1000 274 3533
4 3533 1000 381 4914
5 4914 1000 497 6410
6 6410 1000 622 8033
7 8033 1000 759 9792
8 9792 1000 906 11698
9 11698 1000 1067 13765
10 13765 1000 1240 16005
11 16005 1000 1428 18433
12 18433 1000 1632 21066
13 21066 1000 1854 23919
14 23919 1000 2093 27012
15 27012 0 2269 29281
16 29281 0 2460 31741
17 31741 0 2666 34407
18 34407 0 2890 37298
19 37298 0 3133 40431
20 40431 0 3396 43827
21 43827 0 3681 47508

परिणाम:

  • खाते में कुल जमा राशि – 14,000 रूपये
  • मैच्योरिटी के बाद राशि – 47508 रूपये
  • प्राप्त ब्याज – 33,508 रूपये

5000 रूपये योगदान के साथ गणना (वार्षिक)

  • फिक्स्ड इंटरेस्ट – 8.4%
  • कार्यकाल – 14 साल
  • भुगतान आवृत्ति – वार्षिक रूप से
साल ओपनिंग बैलेंस (रूपये में) जमा राशि (रूपये में) ब्याज (रूपये में) क्लोजिंग बैलेंस (रूपये में)
1 0 5000 420 5420
2 5420 5000 875 11295
3 11295 5000 1369 17664
4 17664 5000 1904 24568
5 24568 5000 2484 32052
6 32052 5000 3112 40164
7 40164 5000 3794 48958
8 48958 5000 4532 58490
9 58490 5000 5333 68823
10 68823 5000 6201 80024
11 80024 5000 7142 92166
12 92166 5000 8162 105328
13 105328 5000 9268 119596
14 119596 5000 10466 135062
15 135062 0 11345 146407
16 146407 0 12298 158706
17 158706 0 13331 172037
18 172037 0 14451 186488
19 186488 0 15665 202153
20 202153 0 16981 219134
21 219134 0 18407 237541

परिणाम:

  • कुल जमा राशि: 70000 रूपये
  • मैच्योरिटी राशि के बाद की राशि : 2,37,541 रूपये
  • प्राप्त ब्याज – 1,6,541 रूपये

प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट दोबारा कैसे खोलें?

पीएम सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत, आवेदक अपनी बेटी के भविष्य को उज्ज्वल बनाने के लिए इस योजना में अपनी सुविधानुसार 250 रुपये से 15 लाख रुपये तक जमा कर सकते हैं। यदि आप 250 रुपये की धनराशि जमा करते हैं, तो हर साल आपको यह राशि खाते में जमा करनी होगी। हालांकि, यदि किसी भी साल आप निर्धारित राशि जमा नहीं करते हैं, तो आपका खाता बंद कर दिया जाएगा। खाता बंद होने के बाद, आप इसे दोबारा री-ओपन करवा सकते हैं। इसके लिए, आपको अपने नजदीकी पोस्ट ऑफिस या बैंक, जहां आपका खाता है, जाना होगा। वहां से आपको री-ओपन का फ़ॉर्म लेकर भरना होगा और बची हुई राशि को पेनल्टी के साथ जमा करना होगा।

उदाहरण के रूप में, मान लीजिए कि आपने 3 साल में 1000 रुपये की धनराशि जमा नहीं की है, जो आपको हर साल जमा करनी ज़रूरी होती है। ऐसे में, आपको 3 साल के हिसाब से 3000 रुपये के साथ-साथ हर साल 50 रुपये का जुर्माना भी जमा करना होगा। यानी आपको (3000+150 = 3150 रूपये) जमा करने होंगे।

पीएम सुकन्या समृद्धि योजना ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया

पीएम सुकन्या समृद्धि योजना में आवेदन करने के लिए, जो आवेदक अपनी बेटी का खाता खुलवाना चाहते हैं, वे ऑफलाइन माध्यम से आवेदन कर सकते हैं। निम्नलिखित स्टेप्स के माध्यम से आवेदन की प्रक्रिया को पढ़कर जान सकते हैं:

  1. सबसे पहले, उम्मीदवार को अपने नजदीकी डाकघर या सरकारी बैंक शाखा में जाना होगा।
  2. वहां, आपको शाखा के अधिकारी से सुकन्या समृद्धि योजना का आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा।
  3. फॉर्म प्राप्त करने के बाद, आपको उसमें पूछी गई सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक भरना होगा।
  4. सभी जानकारी को भरकर, आपको फॉर्म के साथ अटैच करने के लिए मांगे गए सभी दस्तावेजों को साथ लगा देना होगा।
  5. अंतिम चरण में, फॉर्म की जांच करें और यदि कोई जानकारी छूट जाती है, तो उसे भर लें।
  6. फॉर्म को पूरी तरह से भरकर, आपको उसे पोस्ट ऑफिस या बैंक शाखा में जमा करना होगा।

योजना में पासबुक के लिए आवेदन कैसे करें?

अगर आपने सुकन्या समृद्धि योजना में अपनी बेटी के खाते के लिए पासबुक आवेदन किया है, तो निम्नलिखित स्टेप्स को पढ़कर आवेदन प्रक्रिया को जान सकते हैं:

  1. सबसे पहले, योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  2. वहां, होम पेज पर Download Forms या फॉर्म डाउनलोड करें जैसा विकल्प दिखाई देता है, उस पर क्लिक करें।
  3. यहां, आपके सामने कई विकल्प आएंगे। Passbook Form 4 के विकल्प पर क्लिक करें।
  4. क्लिक करने के बाद, आपके सामने एक PDF फॉर्मेट में फॉर्म खुलेगा।
  5. आप फॉर्म को डाउनलोड करने के लिए डाउनलोड विकल्प पर क्लिक कर सकते हैं।
  6. फॉर्म का प्रिंटआउट निकालें और सभी जानकारी को सही से भरें।
  7. सभी जानकारी को भरने के बाद, फॉर्म की जांच करें और उसे अपने नजदीकी डाकघर में जमा करें।
  8. आपके जमा किए गए फॉर्म को अधिकारियों द्वारा सत्यापित किया जाएगा।
  9. सत्यापन के बाद, आपको नई पासबुक दी जाएगी।

समृद्धि योजना  हेल्पलाइन नंबर:

सुकन्या समृद्धि योजना से संबंधित जानकारी या शिकायत होने पर आवेदक इसके हेल्पलाइन नंबर: 18002666868 पर संपर्क करके समाधान प्राप्त कर सकेंगे।

FAQ

Q: सुकन्या समृद्धि योजना से क्या लाभ होता है?

उत्तर: प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना से निम्नलिखित लाभ होता है:

  1. आर्थिक सहायता: यह योजना बेटी को आर्थिक सहायता प्रदान करती है। उसके नाम से एक सुकन्या समृद्धि खाता खोलने के बाद, उसके लिए नियमित रूप से जमा की गई राशि इसे उच्च ब्याज दर पर बचत करती है। यह बेटी के भविष्य की विवाह, शिक्षा और उद्यमिता की आवश्यकताओं को पूरा करने में मदद करती है।
  2. टैक्स छूट: सुकन्या समृद्धि योजना में जमा की गई राशि पर टैक्स मुक्ति प्रदान की जाती है। यह योजना आयकर अधिनियम, 1961 के तहत 80C के तहत छूट प्रदान करती है, जिससे आपको कुछ हिस्सा बचता है।

Q:प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना के नियम क्या हैं?

उत्तर: सुकन्या समृद्धि योजना के कुछ महत्वपूर्ण नियम निम्नलिखित हैं:

  1. बेटी की उम्र: सुकन्या समृद्धि योजना के अनुसार, बेटी की उम्र 10 वर्ष या उससे कम होनी चाहिए।
  2. जमा की राशि: सुकन्या योजना में जमा की जा सकने वाली राशि की न्यूनतम सीमा रुपये 250 है, जबकि अधिकतम राशि 1.5 लाख रुपये है। यह राशि प्रतिवर्ष जमा की जा सकती है।
  3. खाता खोलने की अवधि: सुकन्या योजना में खाता खोलने की अवधि बेटी की उम्र 10 वर्ष तक होती है।

Q: प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना में 1 साल में कितना पैसा जमा कर सकते हैं?

उत्तर: सुकन्या समृद्धि योजना में प्रतिवर्ष न्यूनतम ₹250 जमा किए जा सकते हैं और अधिकतम राशि ₹1.5 लाख तक हो सकती है। यह राशि प्रति वर्ष जमा की जा सकती है।

Q: सुकन्या समृद्धि योजना कब शुरू हुई?

उत्तर: सुकन्या समृद्धि योजना जनवरी 2015 में शुरू हुई थी।

 

Leave a comment